ICC अध्यक्ष बनने की अटकलों पर गांगुली ने लगाया विराम, बोले- यह पद मेरे हाथ में नहीं

Share this article
sourav ganguly

ANI

वर्तमान में आईसीसी अध्यक्ष ग्रेग बार्कले का कार्यकाल इस साल खत्म हो रहा है। बर्मिंघम में हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया था कि सामान्य बहुमत से चुनाव कराए जाएंगे और अगले अध्यक्ष का कार्यकाल 1 दिसंबर 2022 से 30 नवंबर 2024 के बीच होगा। इसी के बाद से सौरव गांगुली का नाम सुर्खियों में है।

बीसीसीआई अध्यक्ष और भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली को लेकर अटकलों का दौर पिछले कई दिनों से जारी है। कहा जा रहा है कि सौरव गांगुली अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के अध्यक्ष बन सकते हैं। हालांकि, गांगुली ने इस पर चुप्पी तोड़ी है। गांगुली ने साफ तौर पर कहा है कि आईसीसी अध्यक्ष पद उनके हाथ में नहीं है। आपको बता दें कि आईसीसी ने जुलाई में अगला अध्यक्ष नवंबर महीने में चुनने के लिए मंजूरी दे दी थी। विश्व में क्रिकेट के सभी गतिविधियों को आईसीसी नियंत्रित करता है। वर्तमान में आईसीसी अध्यक्ष ग्रेग बार्कले का कार्यकाल इस साल खत्म हो रहा है। बर्मिंघम में हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया था कि सामान्य बहुमत से चुनाव कराए जाएंगे और अगले अध्यक्ष का कार्यकाल 1 दिसंबर 2022 से 30 नवंबर 2024 के बीच होगा। इसी के बाद से सौरव गांगुली का नाम सुर्खियों में है। 

इसे भी पढ़ें: झूलन गोस्वामी को लॉर्ड्स में शानदार विदाई देने को तैयार है भारत: हरमनप्रीत

हालांकि, आज सौरव गांगुली ने इस पर साफ तौर पर अपनी चुप्पी तोड़ी है। सौरव गांगुली ने कहा है कि आईसीसी का अध्यक्ष पद मेरे हाथ में नहीं है। आपको यह भी बता दें कि आईसीसी बोर्ड में जो नया नियम तय किया है उसके मुताबिक अब अध्यक्ष के चुनाव के लिए दो तिहाई बहुमत की जरूरत नहीं है। अब जीत के लिए 51% मतों की ही आवश्यकता है। वर्तमान में सौरव गांगुली बीसीसीआई के अध्यक्ष हैं। हालांकि, सौरव गांगुली के कार्यकाल में टीम इंडिया अच्छे फॉर्म में नहीं है। कई महत्वपूर्ण मुकाबलों में उसे हार का सामना करना पड़ा है। खुद गांगली भी इस इस को स्वीकार कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि हां, यह बात सच है कि हमने बड़े टूर्नामेंटों में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है और यह चिंता की बात है। 

इसे भी पढ़ें: IND vs AUS : बुमराह को लेकर असमंजस बरकरार, डेथ ओवरों की समस्या भारत के लिए चिंता

साथ ही गांगुली ने यह भी कहा कि रोहित शर्मा का जीत का प्रतिशत 80 के करीब है। भारत ने पिछले तीन चार मैच हारे हैं लेकिन उससे पहले 35.40 मैचों में से पांच या छह ही गंवाये। उन्होंने यह भी कहा कि मुझे यकीन है कि रोहित और राहुल द्रविड़ इसे लेकर चिंतित होंगे कि हमने बड़े टूर्नामेंटों में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है। इस पर बात की जायेगी। विराट कोहली के शतक के बारे में उन्होंने कहा कि यह अच्छी बात है कि विराट ने एशिया कप में अच्छा खेला और उम्मीद है कि वह लय कायम रखेगा।। महिला तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे और आखिरी वनडे के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने जा रही है। गांगुली ने उन्हें ‘लीजैंड’ बताते हुए कहा कि झूलन लीजैंड है। बीसीसीआई अध्यक्ष के तौर पर पिछले तीन साल में हमारे बेहतरीन संबंध रहे हैं। उनका कैरियर शानदार रहा और वह महिला क्रिकेट में रोलमॉडल रहेंगी।

अन्य न्यूज़

Leave a Reply

Your email address will not be published.